10th के बाद क्या करें – What courses to choose after 10th

what to do after 10th

Courses after 10th, १०वीं के बाद आप किस स्ट्रीम का चयन करते हैं ये बहुत ही महत्वपूर्ण है क्योंकि आपका आगे का पढ़ाई और करियर इस चीज पे बहुत डिपेंड करता है। दोस्तों स्वागत है आपका हमारे इस नए लेख में – “10th के बाद क्या करें – What courses to choose after 10th”. उम्मीद करते हैं कि आपको हमारे एक्सपीरियंस और इस पोस्ट से कुछ गाइडेंस मिलेगा।

१०वीं बाद क्या करें – आपके जीवन का सबसे महत्वपूर्ण निर्णय

जैसा हमने पहले कहा आप १०वीं के बाद क्या सब्जेक्ट्स का चयन करते हैं उसपे आपके फ्यूचर में करियर ऑप्शंस बहुत हद तक तय होता है। जैसे की आप अगर विज्ञानं एंड गाडित लेके पड़ते है यानि की साइंस स्ट्रीम लेते हैं तो बहुत हद तक आप इंजीनियर या डॉक्टरी की तरफ जाते हैं। कहने का मतलब ये है की आपके फ्यूचर करियर को ये काफी इन्फ्लुएंस करेगा|

10th के बाद क्या विषय लें – ये तय कैसे करें

मुझे याद है की जब हम छोटे थे तो हमारे बहुत सरे फैसले हमारे माता पिता करते थे। पर आज का समय अलग है. आज इनफार्मेशन का जमाना है और हर फील्ड में ढेर सरे ऑप्शंस है। इसलिए आज बच्चे खुद फैसला लेने में सक्षम है।

इसलिए पहले आप ये समझिये की आपका रूचि किस तरफ है। ये बहुत जरूरी है। सिर्फ इसलिए की आपके दोस्तों की राय या आपके घर वालों की राय कुछ और है आप वो सब्जेक्ट्स लेके पढ़े जिसमे आपकी रूचि नहीं है ये गलत होगा।

सो बहुत जरूरी है की आप अपने आप से बात करें और पूछें की आप क्या करना चाहते है और वही लाइन चूस करें। जब आप वो करेंगे जिसमे आपका मन है तो उसे आप अच्छे से कर पाएंगे।

10th के बाद क्या क्या विकल्प हैं?

सो १०वीं के बाद आप के पास ४ से ५ रास्ते खुल जाते हैं. जो के नीचे हैं

  • ११वी एंड १२वी ( CBSE / ICSE या State Board )
  • डिप्लोमा इन इंजीनियरिंग
  • ITI
  • Vocational / Certificate कोर्सेज

११वी एंड १२वी ( CBSE / ICSE या State Board )

आगे की पढाई करने का ये सबसे पसंदीदा ऑप्शन है। अधिकतर बच्चे यही ऑप्शन लेते हैं। और सीमे भी ३ रास्ते हैं और ये पढाई २ साल की है

  • साइंस (Science स्ट्रीम) : सबसे ज्यादा बच्चे इसी स्ट्रीम को लेते है। सबसे पॉपुलर है क्योंकि अगर आप साइंटिस्ट या इंजीनियर या डॉक्टर बनना चाहते हैं तो आपको साइंस स्ट्रीम लेके पड़ना ही पड़ेगा और भी कई करियर के रास्ते खुल जाते है इस पढाई के बाद… जैसे कि आपको पायलट बनना है या डिफेन्स में अफसर बनना है। . ऐसे कई रस्ते खुल जाते हैं आपके लिए।
  • कॉमर्स (Commerce स्ट्रीम): दूसरा एक अच्छा ऑप्शन है पड़ने के लिए। अगर आप बिज़नेस करना चाहते हैं। या फिर आप CA / CS बनना चाहते हैं तो आपको commerce लेके पड़ना चाहिए।
  • आर्ट्स (Arts स्ट्रीम): इस पढाई के बाद भी ढेर सारे रास्ते खुल जाते हैं। जैसे की मन लीजिये आप IAS/IPS की तैयारी करना चाहते है तो ये पढाई का अच्छा ऑप्शन है। और भी कई स्ट्रीम्स है जैसे जर्नलिज्म , एक्टिंग , हिस्टोरियन , जियोलॉजिस्ट


डिप्लोमा इन इंजीनियरिंग

ये दूसरा पॉपुलर ऑप्शन है। आज से २० से ३० साल पहले ये एक बहुत ही अच्छा ऑप्शन था। पहले जब जुनिर इंजीनियर (JE ) की नौकरिया निकलती थी उसमे डिप्लोमा होल्डर्स को काफी वरीयता दी जाती थी. ये पढाई ३ साल की है

आज कल इंजीनियरिंग डिग्री मांगी जाती है। पर डिप्लोमा इन इंजीनियरिंग करने का फायदा ये है की आप BE / BTECH में डायरेक्ट सेकंड ईयर में एडमिशन ले सकते हैं। इसे लेटरल एंट्री कहा जाता है।

लेकिन डिप्लोमा इन इंजीनियरिंग तभी फायदेमंद है जब आप आगे इंजीनियरिंग ही करना चाहते हैं.



ITI

ITI , जिसे हम इंडस्ट्रियल ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट भी कहते हैं आपको किसी ऐसे स्किल्स में ट्रेनिंग देती हैं जो जॉब में काम आये। ऐसे कोर्सेज आपको अलग अलग इंडस्ट्रीज में जॉब पाने में हेल्प करते हैं। ये कोर्सेज की प्राथमिकता एक स्किल्ड पूल बनाने की है जो इंडस्ट्रीज में काम कर सके.

ये पढाई १ से २ साल की होती है.

ऐसे कुछ कोर्सेज के उदहारण हैं –

  • आईटीआई मैकेनिक कोर्स
  • आईटीआई इलेक्ट्रीशियन कोर्स
  • आईटीआई वेलडोर कोर्स
  • आईटीआई कोर्सेज इन कंप्यूटर

और भी कई कोर्सेज हैं

Vocational / Certificate कोर्सेज

ये कोर्सेज भी जॉब ओरिएंटेड कोर्स है जो ३ से ६ महीने का होता है. ये छोटे ( short term ) समय के कोर्सेज है और आपको किसी एक फील्ड में नॉलेज देते हैं। जैसे की वेब डिज़ाइन में कोर्स , या ग्राफ़िक डिज़ाइन में कोर्स। या कुकिंग , पॉटरी में कोर्स जैसे कई कोर्सेज।


सो दोस्तों आपने क्या फैसला किया हमें जरूर बताएं। आपको ये पोस्ट ” courses after 10th ” कैसा लगा , अपने फीडबैक से हमें बताएं। दोस्तों जो भी फैसला लें बहुत सोझ समझ के लें। अंत में मै यही कहूंगा। ऐसा नहीं है की १०
वीं में आपने अगर साइंस लिया तो १२वीं के बाद आर्ट्स लेके नहीं पद सकते हैं। पर अगर आपने १० वीं में आर्ट्स लिया है तो १२वीं के बाद साइंस नहीं ले सकते हैं। कहने का मतलब है की restrictions हैं। सो ध्यान से सोचे। आल थे बेस्ट दोस्तों।

आपका दोस्त संजीव@indiacareeradvice

you may also like: how to become pilot

Sanjeev

Sanjeev

Hello Friends, my name is Sanjeev and I have been in the industry of education, training and mentoring for 20 years now. I love imparting what I have learnt and sharing my knowledge. I hope my articles benefit you. You can write to me at skumar@indiacareeradvice.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
Menu